व्हे प्रोटीन क्या है और व्हे प्रोटीन कैसे बनता है?

आज के इस युवा दौर में सभी युवाओं को अपनी बॉडी बनानी है और सभी अपनी बॉडी को मस्कुलर और बल्कि बनाने के लिए लगे हुए हैं और इसके लिए वे कई प्रकार के बॉडीबिल्डिंग सप्लीमेंट का उपयोग कर रहे हैं उन्हीं में से एक मुख्य सप्लीमेंट होता है जिसका नाम वे प्रोटीन होता है यह सप्लीमेंट सबसे प्रचलित और असरदार सप्लीमेंट है जो की बॉडी बिल्डिंग में सबसे ज्यादा उपयोग होता है।

व्हे प्रोटीन क्या है

अगर आप फिटनेस और बॉडी बिल्डिंग मैं रुचि रखते हैं तो आपने व्हे प्रोटीन का नाम तो सुना ही होगा परंतु क्या आपको पता है कि वे प्रोटीन क्या होता है और इसे कैसे बनाया जाता है और यह हमारी बॉडीबिल्डिंग पर इतना कारगर क्यों होता है और हमें इतने बेहतर रिजल्ट कैसे दे पाता है।

यह भी पढे –  Best Protein Powder In India

Contents

व्हे प्रोटीन क्या है?(Whey Protein Kya Hai)

व्हे प्रोटीन पाउडर,प्रोटीन का ही एक पाउडर रूप होता है और यह प्रोटीन का शुद्ध रूप होता है इसमें लगभग 80 से 90% शुद्ध प्रोटीन होता है और बाकी निम्नतम रूप में कार्बोहाइड्रेट,वसा और BCAA आदि शामिल होते है यह हमारी बॉडी में प्रोटीन की मांग को पूरा करता है अर्थात आप व्हे प्रोटीन के माध्यम से भी अपने शरीर में प्रोटीन की कमी को पूरा कर सकते हैं।

व्हे प्रोटीन कैसे बनता है?(Whey Protein Kaise Banta Hai)

दोस्तों व्हे प्रोटीन दूध से बनता है सबसे पहले दूध में एंजाइम्स मिलाकर उसे फाड़ा जाता है दोस्तों आपने अक्सर देखा होगा जब दूध फट जाता है तो उसके दो रूप हो जाते हैं जिनमें से एक रूप तरल पदार्थ होता है जिसे व्हे लिक्विड कहते है और दूसरा रूप द्रव के रूप में होता है जैसे दही,छाछ आदि।

इनमें से जो व्हे लिक्विड होता है उसी से व्हे प्रोटीन बनाया जाता है इसमें दूध से निकाले हुए व्हे लिक्विड को छानकर सबसे पहले उसे रासायनिक विधि से बैक्टीरिया मुक्त किया जाता है इसके बाद बचे हुए लिक्विड व्हे प्रोटीन मैं से लैक्टोस और अनवांटेड फैट्स को निकाला जाता है और प्रोडक्ट के हिसाब से फ्लेवर ऐड किया जाता है इसके बाद प्राप्त प्योर व्हे प्रोटीन लिक्विड को मशीनों द्वारा सुखाकर पाउडर के रूप में बना लिया जाता है। इसी को हम व्हे प्रोटीन कहते हैं।

व्हे प्रोटीन के फायदे क्या है?(Whey protein ke fayde)

  • व्हे प्रोटीन का फायदा हमें सबसे ज्यादा पोस्ट वर्कआउट में होता है क्योंकि पोस्ट वर्कआउट में हमें क्विक व्हे प्रोटीन की आवश्यकता होती है जो कि हमें डाइट से तुरंत नहीं मिल पाता है इसीलिए इसका सबसे बेहतर विकल्प व्हे प्रोटीन ही होता है।
  • दोस्तों व्हे प्रोटीन लेने के कई फायदे हैं जिन्हें हम इन निम्नलिखित बिंदुओं के माध्यम से समझ सकते हैं।
  • व्हे प्रोटीन का उपयोग करने से हमारे डाइट बनाने का समय के बचत होती है।
  • अगर हम ऑफिस वर्क करते हैं तो हमें डाइट लेने का समय नहीं होता है इस समस्या में  हम व्हे प्रोटीन आसानी से उपयोग कर सकते हैं।
  • व्हे प्रोटीन से प्राप्त प्रोटीन बेस्ट प्रोटीन होता है और इससे हमारे शरीर में शुद्ध प्रोटीन मिलता है ओर बॉडीबिल्डिंग और फिटनेस में अच्छे परिणाम मिलते हैं।

यह भी पढे – पोस्ट वर्कआउट क्या होता है? बेस्ट 5 पोस्ट वर्कआउट मील इन हिन्दी ।

व्हे प्रोटीन के नुकसान क्या है?(Whey protein ke nuksan)

  • दोस्तों अगर आपका प्रोटीन असली है तो व्हे प्रोटीन का कोई भी नुकसान नहीं होता है व्हे प्रोटीन एक नेचुरल प्रोडक्ट के समान ही होता है क्योंकि इसे दूध से पाउडर रूप में बनाया जाता है और इसमें किसी भी प्रकार के बाहरी इनग्रेडिएंट का उपयोग नहीं होता है जिससे हमें किसी भी प्रकार का हेल्थ से संबंधित नुकसान हो।
  • अगर आपका व्हे प्रोटीन पाउडर नकली है तो आपको निश्चित ही इसका बहुत ज्यादा नुकसान हो सकता है और आपकी हेल्थ पर भी इसका बहुत असर पड़ सकता है क्योंकि नकली व्हे प्रोटीन पाउडर में डायनाबोल जैसे स्टेरॉयड हुए होते हैं जो कि आपके शरीर को जल्दी मस्कुलर बना देती हैं परंतु इससे आपके आंतरिक अंगों को बहुत नुकसान होता हैं।
  • अगर आप स्टेरॉयड का उपयोग करते हैं और आप व्हे प्रोटीन ले रहे हैं तो यह आपको नुकसान कर सकता है क्योंकि स्टेरॉइड शरीर के नुकसानदायक होते हैं।

यह भी पढे – Steroid Ka Matlab Kya Hota Hai

व्हे प्रोटीन पाउडर किसे लेना चाहिए?

दोस्तों यह सवाल आपके मन में तो जरूर आया होगा कि व्हे प्रोटीन कौन कौन ले सकता है दोस्तों मैं आपको बता दूं कि व्हे प्रोटीन हर वो व्यक्ति ले सकता है जिसकी उम्र 18 साल से अधिक है क्योंकि 18 वर्ष के बाद हमारी बॉडी में प्रोटीन की मांग बढ़ जाती है और अगर आप बॉडीबिल्डिंग कर रहे हो या फिर नहीं। आपको दिन में अपने वजन से डेढ़ गुना प्रोटीन ग्रहण करना चाहिए जिससे हमारी मसल मजबूत और बड़ी हो और हमारी बॉडी में मसल लॉस ना हो।

प्रोटीन पाउडर का इन क्षेत्रों में ज्यादा इस्तेमाल होता है।

  • बॉडीबिल्डिंग
  • एथलीट
  • स्पोर्ट्स
  • स्विमिंग
  • वेटलिफ्टिंग

परंतु इसका मतलब यह नहीं है कि केवल और केवल इन्हीं क्षेत्रों के लोग प्रोटीन पाउडर का इस्तेमाल कर सकते हैं दोस्तों अगर आप अपने शरीर में प्रोटीन की कमी को पूरा नहीं कर पा रहे हैं तो आप नॉर्मल लाइफस्टाइल में भी प्रोटीन पाउडर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

असली और नकली व्हे प्रोटीन की पहचान कैसे करें?

असली व्हे प्रोटीन को पहचानने के लिए बहुत सारे बिंदु होते हैं जिनके माध्यम से आप आसानी से व्हे प्रोटीन की जांच करके उसकी असली और नकली होने की पहचान कर सकते हैं इनमें से कुछ बिंदु निम्नलिखित हैं।

ऑथराइजेशन कोड-

दोस्तों असली और ब्रांडेड प्रोटीन पाउडर मैं आपको अक्सर एक ऑथराइजेशन कोड मिल जाता है जिसके माध्यम से आप उस ब्रांड की वेबसाइट में जाकर मिला हुआ,ऑथराइजेशन कोड डालकर अपने प्रोटीन पाउडर की अथॉरिटी चेक कर सकते हैं कि वह प्रोटीन पाउडर नकली है या फिर असली है।

ब्रांड-

दोस्तों आपको अक्सर अच्छी ब्रांड का प्रोटीन पाउडर लेना चाहिए क्योंकि ब्रांडेड प्रोटीन पाउडर आपको बेस्ट क्वालिटी से लेकर बेस्ट अथॉरिटी ऑप्शन देते हैं जिससे आप आसानी से अपने प्रोटीन के असली और नकली होने की पहचान कर सकते हैं।

और साथ ही साथ ब्रांडेड प्रोटीन पाउडर में ब्रांड की रेपुटेशन का भी सवाल होता है इसीलिए सभी ब्रांडेड प्रोटीन अपनी क्वालिटी कंप्रोमाइज नहीं करते हैं।

शॉप-

आप जब ऑफलाइन या ऑनलाइन प्रोटीन पाउडर ले रहे होते हैं तो आपको प्रोटीन पाउडर एक ऑथराइज शॉप से लेना चाहिए क्योंकि छोटी शॉप वाले अक्सर ज्यादा फायदा कमाने के लिए लोगों को ठग बनाते हैं।

आपको यह बहुत अच्छे तरीके से ध्यान रखना हैं अगर कोई व्यक्ति आपको ब्रांडेड प्रोटीन पाउडर, बहुत सस्ता दे रहा है तो निश्चित ही वह प्रोटीन पाउडर नकली है क्योंकि प्रोटीन पाउडर का रेट ज्यादा ऊपर नीचे नहीं होता है ।

मिक्सबिलिटी-

असली प्रोटीन पाउडर की मिक्सेबिलिटी बहुत प्यारी होती है उसे पानी में या फिर दूध में मिलाने पर प्रोटीन पाउडर की गोलियां नहीं बनती हैं और प्रोटीन पाउडर बड़ी ही आसानी से मिक्स हो जाता है अर्थात असली प्रोटीन पाउडर मैं पाउडर की क्वालिटी भी बेस्ट होती है।

डब्बा और सील-

असली प्रोटीन पाउडर का डिब्बा और सील बिल्कुल पैक और शील्ड होता है जिसमें किसी भी कारण से उसे खोला नहीं जाता है अगर कोई व्यक्ति बोलता है कि इसे टेस्टिंग के लिए खोला जाता है तो उसकी बात बिल्कुल गलत है और वह आपको नकली प्रोटीन पाउडर बेचकर पागल बना रहा है।

बेस्ट 5 व्हेय प्रोटीन कौन से है?

Optimum Nutrition(ON) 100% Whey Gold StandardCheck Price On Amazon
Muscle Blaze Whey Isolate ProteinCheck Price On Amazon
My Protein Impact Whey ProteinCheck Price On Amazon
Ultimate Nutrition Prostar 100% Whey ProteinCheck Price On Amazon
Big Muscles Nutrition Premium Gold WheyCheck Price On Amazon

प्रोटीन पाउडर कितने प्रकार के होते हैं?

व्हे प्रोटीन मुख्यतः तीन प्रकार के होते है। व्हे प्रोटीन कंसन्ट्रेट(WPC), व्हेो प्रोटीन आइसोलेट (WPI) और व्हे प्रोटीन हाइड्रोलिसेट (WPH)।

जिम करने के बाद कौन सा पाउडर खाना चाहिए?

जिम करने के बाद व्हे प्रोटीन पाउडर खाना चाहिए इससे आपकी मसल रिकवरी बहुत तेज़ी से बढ़ जाती है।

व्हे प्रोटीन क्या काम करता है?

व्हे प्रोटीन आपके शरीर मैं प्रोटीन की मांग को पूरा करता है अक्सर लोग इसे अपने डाइट बनाने के समय की बचत करने के लिए उपयोग करते है।

व्हे प्रोटीन की कीमत क्या है?

व्हे प्रोटीन के 1kg की कीमत लगभग 1500 रुपये से 2500 रूपये तक होती है यह कीमत कंपनी ओर क्वालिटी के उपर निर्धारित होती है ।

वे प्रोटीन पाउडर कैसे बनता है?

वे प्रोटीन दूध मे से शुद्ध प्रोटीन को निकालकर ओर है इसके बाद प्राप्त प्योर व्हे प्रोटीन लिक्विड को मशीनों द्वारा सुखाकर पाउडर के रूप में बना लिया जाता है। इसी को हम व्हे प्रोटीन कहते हैं।

प्रोटीन कैसे लेना चाहिए?

प्रोटीन को आपको दूध या पानी के साथ लेना चाहिए ।

क्या प्रोटीन पाउडर लेना चाहिए?

हाँ बिलकुल लेना चाहिए अगर आप अपने शरीर मैं प्रोटीन की मांग को डाइट के माध्यम से पूरा नहीं कर पा रहे है तो आपको अवश्य प्रोटीन पाउडर लेना चाहिए।

अगर आप फिटनेस और बॉडी बिल्डिंग में रुचि रखते हैं तो आपको एक बार व्हे प्रोटीन का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए क्योंकि व्हे प्रोटीन के रिजल्ट बहुत ही अच्छे हैं इससे आपको अपने बॉडीबिल्डिंग लक्ष्य को प्राप्त करने में बहुत ही आसानी जाती है क्योंकि बॉडी बिल्डिंग में प्रोटीन का एक बहुत बड़ा रोल होता है क्योंकि बिना प्रोटीन के मसल बन पाना नामुमकिन जैसी बात है।

इसे जरूर पढे –बाइसेप्स कैसे बनाये? बाइसेप्स बनाने के उपाय ओर एक्सरसाइज क्या है?

और अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया हो तो आप हमारे आर्टिकल को लाइक कर सकते हैं और हमारे आर्टिकल में आप फाइव स्टार रेटिंग भी दे सकते हैं जिससे हमें और भी अच्छी-अच्छी पोस्ट लिखने में मोटिवेशन प्राप्त होता है और अगर आपको हमसे किसी भी प्रकार का सवाल यह सुझाव है आप हमें कमेंट सेक्शन में और हमारी ईमेल पर भी कांटेक्ट कर सकते हैं।

आपका कीमती समय देने के लिए, धन्यवाद!

Check Also

Health Kaise Banaye

अच्छी सेहत बनाने के 10 उपाय | मजबूत ओर स्वस्थ्य हैल्थ बनाएँ।

आज के समय में लोग कमाने के चक्कर में अपनी हेल्थ(Health Kaise Banaye) को अच्छा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *